Gold Monetisation Scheme in Hindi – गोल्ड मोनेटाईज़ेशन स्कीम

Gold Monetisation Scheme

Gold Monetisation Scheme in Hindi के इस लेख मे आपको Government Gold Deposit Scheme, Gold Monetisation Scheme Interest Rate की जानकारी दी गई है। Gold Monetisation Scheme Details मे आपको Gold Monetisation Scheme Meaning, Gold Monetisation Scheme Time Period के साथ आपको Gold Monetisation Scheme 2018 के बदलाव की जानकारी प्रदान की गई है। Gold Monetisation Scheme की अधिक जानकारी के लिए पूरा लेख पढे।

 

Gold Monetisation Scheme in Hindi

Gold Monetisation Scheme मोदी सरकार ध्वारा पुरानी Gold Deposit Scheme की संशोधित योजना है। इस योजना को मोदी सरकार ध्वारा मई 2015 मे शुरू किया गया था। पुरानी योजना की कमियो को दूर कर इस योजना मे सरकार ने काफी सुधार किए है। इस योजना का मुख्य आशय हमारे देश मे हो रही सोने की आयात को कम करना है। एक अनुमान के तहत 2.16 लाख करोड़ रुपयो से भी ज्यादा का सोना भारत मे आयात किया जाता है। दूसरी ओर हमारे देश मे लगभग 57.6 लाख करोड़ रुपयो से ज्यादा का सोना देश के धार्मिक ओर आवस स्थलो मे संग्रह किया गया है, जो किसी काम मे नहीं लाया जाता।

इस Gold Scheme के तहत सरकार ध्वारा जो सोना संग्रह किया गया है उसे बाहर लाना है और विदेश से जो सोने की आयात की जाती है उसे कम करना। योजना के तहत जमा होने वाले सोने पर सरकार ब्याज या सोने के सामने सोना या सोने के बदले पेसे प्रदान करेगी। योजना के तहत जमा हुये सोने को सरकार देश मे सोना आयात करने वाली कंपनियो को बेचेगी। ऐसा करने से देश का आर्थिक विकास होगा और देश का सोना देश मे ही रहेगा।

लेकिन इस Gold Scheme के तहत जमा किए गए सोने के सामने सरकार पेसे या नया सोना देंगी। मतलब की आपने जिस भी रूप मे सोना दिया हो पर आपको वापसी मे पिगला हुआ सोना मिलेगा। जी हाँ आप सही समज रहे है, मे आपको समजता हु – मान लीजिये की आपने 100 ग्राम सोने के गहने 2 साल के लिए इस योजना के तहत रखे है, 2 साल के बाद आपको सोना वापस मिलेगा मगर आपने जो गहने दिये थे वो नहीं उसका जो सही से वजन हुआ होगा उस हिसाब से आपको उतने ही वजन का सोने का टुकड़ा दिया जाएगा।

 

Gold Monetisation Scheme 2018

(Government Gold Deposit Scheme)

पुरानी Government Gold Deposit Scheme के मुताबिक नई योजना मे जमा करने की सोने की मात्रा को कम किया गया है। पहेले की योजना मे 500 ग्राम मात्रा रखी गई थी, जिससे इस योजना को ज्यादा सफालता नहीं मिली थी। और इस पर ब्याज भी 1 % रखा गया था।

नई  Gold Scheme मे 30 ग्राम मात्रा रखी गई है और ब्याज 2.25 से 2.50 % का रखा गया है।
इस योजना के तहत अगर आप अपने सोने को बैंक मे रखना चाहते है तो आपको कम से कम 1 साल तक सोने को रखना होगा।

इस योजना के अंतर्गत 1 से 15 साल की अवधि मे आप सोने को रख सकते है। रखे गए सोने के सामने आपकी अवधि समाप्त होने के बाद आपको अपनी इच्छा अनुसार सोना या रुपए आपको जो चाहिए वो ब्याज समित मिलेगा।

अगर आपको ब्याज के रूप मे सोना चाहिए तो वो भी इस योजना के तहत मिलेगा। लेकिन इस योजना के अंतर्गत रखे गए सोने की अवधि के बाद आपको रखा हुआ सोना नहीं मिलेगा बल्कि आपको उतने ही वजन का सोने का टुकड़ा दिया जाएगा।

इस योजना से सोने रखने वाले को सोने की जो रकम होगी उस पर ब्याज मिलेगा या सोना मिलेगा, यह इस योजना का लाभ है।

इसमे नुकसान यह है की आपके सोने की जो मूल रकम अदा की होगी, जेसे की उस पर लगा कर और उसकी मजदूरी की किम्मत आदि को बैंक मे रखते वक़्त गिना नहीं जाएगा केवल 20, 22 या 24 केरेट के सोने के वजन के मुताबिक दाम को ही गिना जाएगा। नुकसान यह होगा की आपने जिस रूप मे सोना रखा होगा वही आपको वापस नहीं मिलेगा उसकी जगह आपको सोने का टुकड़ा दिया जाएगा।

Gold jewelry

Gold Monetisation Scheme Meaning ((स्वर्ण मुद्रीकरण योजना))

  • Gold Monetisation Scheme का मतलब होता है की स्वर्ण का मुद्रीकरण। आसान भाषा मे कहे तो इसका मतलब यह होता है की बेकार पड़े सोने का उपयोग कर उसके बदले मे पेसो की आय करना। इस योजना मे आपको सोने के सामने उसकी रकम पर ब्याज दिया जाएगा।
  • अगर आपके पास सोना पड़ा है ओर आप उसका उपयोग नहीं करते है या आपने उस सोने को अपनी मुश्किल परिस्थिति के लिए संभाल के रखा है, तो वह सोना बाजार की किम्मत पर निर्भर होगा। मतलब यह है की मान लीजिये आपने अपने पास पड़े बचत के पेसो का सोना खरीदा तब वह 3000रु\प्रति ग्राम था। आपको दो साल बाद किसी कारण वस पेसो के लिए उसे बेचना है और अब सोने की किम्मत 2600रु\प्रति ग्राम है तो आपको प्रति ग्राम 400रु का नुकसान होगा। और साथ मे आपको उसका दाम पुराने सोने के रूप मे मिलेगा।
  • अगर आपने वही सोने को इस योजना के तहत रखा है तो आपको इसकी किम्मत सरकार के मान्य होलमार्क सेंटर के प्रमाणपत्र के आधार पर मिलेगी और साथ मे उस किम्मत का आपको 2.25 से 2.50 % तक का ब्याज भी मिलेगा। अगर आपको इस सोने को बेचना है और इसके पेसे लेने है तो आपको इस योजना के तहत आपको बैंक से पेसे भी दिये जाएगे।
  • इस योजना के तहत इस योजना की अवधि पूरी होती है उस समय आपको खरा सोना वापस किया जाएगा। इसमे आपको यह फायदा होगा की जो भी सोने के बाजार मे दाम हो आपने जितना सोना रखा है उतना सोना आपको वापस किया जाएगा, चाहे दाम बढ़े हो या कम हो।
  • अगर आपको इसके बदले पेसे चाहिए तो आपको बाजार के भाव के हिसाब से या पहेले के भाव से दोनों मे से जो भी ज्यादा होगा उस हिसाब से पेसे दिये जाएंगे।
  • इस योजना का सीधा मतलब यह है की आप अपना सोना बैंक लोकर मे रखते है उसकी सुरक्षा के लिए वही सोने पे सरकार आपको ब्याज देती है ओर उसकी सुरक्षा भी करती है।

Gold Monetisation Scheme Details

  • Gold Monetisation Scheme मे आप अपने पास पड़ा वो सोना रख सकते है जिसका आप उपयोग नहीं करते है, या जिसका आपने संग्रह किया है।
  • Gold Monetisation Scheme का मुख्य आशय यह है की देश मे सोने की आयात को कम करना।
  • हमारे देश मे सोना होने के बावजूद हम हर साल दूसरे देशो से कई लाखो-करोड़ो रुपयो का सोना आयात करते है, इस वजह से हमारे देश का धन दूसरे देशो मे जाता है। जिसकी सीधी असर हमारे अर्थतंत्र पर पड़ती है।
  • इस योजना से सरकार का आशय यह है की देश मे पड़े सोने का इस्तेमाल किया जाए ओर बाहर से सोने की आयात को कम किया जाए।
  • इस योजना के तहत सरकार आपके जमा सोने के सामने आपको ब्याज देगी या ब्याज की रकम के बराबर सोना, जो आप चाहे।
  • Gold Monetisation Scheme के अंतर्गत आपको कम से कम 30 ग्राम (3 तोला) सोना रखना होगा।
  • इस योजना के तहत महत्तम सोना आप जितना रखना चाहते हो उतना रख सकते हो।
  • इस योजना के तहत आप किसी भी रूप मे सोने को जमा करवा सकते है।
  • आप जो सोना जमा करवाना चाहते हो वह 20, 22, 24 किसी भी केरेट का हो सकता है, इस लिए सरकार के मानक ब्यूरो द्वारा मान्यता प्राप्त 350 हॉलमार्क सेंटर मे से किसी भी सेंटर से आपको इसका प्रमाणपत्र मिलेगा वही बैंक मान्य रखेगी।
  • सरकार मान्य हॉलमार्क सेंटर के प्रमाणपत्र के आधार पर आपके सोने की किम्मत तय की जाएगी।
  • Gold Monetisation Scheme के तहत आपको कम से कम 1 साल के लिए सोने को बैंक मे जमा करवाना होगा।
  • इस योजना के तहत आप महत्तम 15 साल के लिए अपने सोने को जमा करवा सकते है।
  • इस योजना के तहत आपको सोने के सामने उसकी रकम का ब्याज दिया जाएगा। ब्याज 2.25 से 2.50 % तक मिलेगा।
  • इस योजना के तहत आप ब्याज की रकम ले सकते या उसके बदले आप उस ब्याज की रकम का सोना भी ले सकते है।
  • ब्याज की रकम को आप सोने के रूप मे ले सकते है लेकिन इसमे आप ज्यादा से ज्यादा 500 ग्राम (50 तोला) तक का ही सोना ले सकते है।
  • इस योजना से आपको आपके पास पड़े बीन-उपयुक्त सोने के पर ब्याज मिलेगा ओर योजना की अवधि समाप्त होने के बाद आपके रखे सोने के स्थान पर आपको खरा सोना प्राप्त होगा।
  • इस योजना से सबसे ज्यादा फायदा मंदिरो और धर्म संस्थानो को होगा

Gold Monetisation Scheme Time Period

इस योजना के तहत सोना रखने की समय सीमा तीन हिस्सो मे होगी।

  1. लघु अवधि (short term) :         1 से 3 साल
  2. मध्यम अवधि (Medium term) :  5 से 7 साल
  3. दीर्घ अवधि (Long term) :         12 से 15 साल

Gold Monetisation Scheme Interest Rate

  • लघु अवधि (short term) 1 से 3 साल :- 2.00 % से 2.25 %, बैंक पर निर्भर है।
  • मध्यम अवधि (Medium term) 5 से 7 साल :- 2.25 %
  • दीर्घ अवधि (Long term) 12 से 15 साल :- 2.50 %

प्यारे पाठक आपको Gold Monetisation Scheme in Hindi लेख मे हमने योजना की जानकारी प्रदान की है। अगर आपको इस योजना या अन्य किसी सरकारी योजना के बारे कोई भी जानकारी हांशील करनी हो तो आप हमे COMMENT करके संपर्क कर सकते है।

अन्य योजनाए पढ़ने के लिए योजना के नाम पर Click करे

  1. सुकन्या समृद्धि योजना
  2. मातृ वंदना योजना
  3. अमृत योजना
  4. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ
  5. गोबर धन योजना
  6. मुद्रा लोन योजना
  7. राष्ट्रीय पोषण मिशन
  8. फसल बीमा योजना
  9. आयुष्मान भारत योजना
  10. अमृतम योजना
  11. उज्ज्वला योजना
  12. भाग्य लक्ष्मी योजना
  13. लाड़ली लक्ष्मी योजना
  14. सौर सुजला योजना
  15. प्रधानमंत्री युवा योजना
  16. ग्राम ज्योति योजना
  17. कौशल विकास योजना
  18. जन-धन योजना
  19. सांसद आदर्श ग्राम योजना
  20. खनिज क्षेत्र कल्याण योजना
  21. अटल पेंशन योजना
  22. जन औषधि योजना
  23. रोजगार प्रोत्साहन योजना
  24. जीवन ज्योति बीमा योजना
  25. आवास योजना
  26. कृषि सिंचाई योजना
  27. मेक इन इंडिया
  28. ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान
  29. सीखो ओर कमाओ योजना
  30. National Aapprenticeship Promotion Scheme
  31. स्टैंड अप इंडिया
  32. वय वंदना योजना
  33. स्वच्छ भारत अभियान
  34. स्कूल नर्सरी योजना
  35. स्मार्ट सिटि योजना
  36. पहल योजना
  37. पढ़ो परदेश योजना
  38. नई मंज़िल योजना
  39. वनबंधु कल्याण योजना
  40. सागरमाला योजना
  41. नमामि गंगे योजना
  42. गंगा ग्राम योजना
  43. अंत्योदय अन्न योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *